आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को AI भी कहा जाता है

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को AI भी कहा जाता है

दुनिया में सबसे पहले 1955 में John McCarthy ने AI का निर्माण किया था

दुनिया में सबसे पहले 1955 में John McCarthy ने AI का निर्माण किया था

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कंप्यूटर, स्मार्टफोन से लेकर सभी स्मार्ट डिवाइस पर मौजूद है

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कंप्यूटर, स्मार्टफोन से लेकर सभी स्मार्ट डिवाइस पर मौजूद है

स्मार्ट टेक्नोलॉजी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) के बदौलत ही संभव है

स्मार्ट टेक्नोलॉजी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) के बदौलत ही संभव है

Artificial intelligence एक तरह से कंप्यूटरी दिमाग है

Artificial intelligence एक तरह से कंप्यूटरी दिमाग है

इसे मशीन लर्निंग के जरिए बनाया जाता है जिसमें बहुत सारे प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेस का प्रयोग किया जाता है

इसे मशीन लर्निंग के जरिए बनाया जाता है जिसमें बहुत सारे प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेस का प्रयोग किया जाता है

यह मनुष्य की तरह सोच सकता है और खुद से सीख सकता है

यह मनुष्य की तरह सोच सकता है और खुद से सीख सकता है

यह अपने आप को अपग्रेड भी कर सकता है

यह अपने आप को अपग्रेड भी कर सकता है

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं

पहला Weak AI, दूसरा Strong AI और तीसरा Super AI है

पहला Weak AI, दूसरा Strong AI और तीसरा Super AI है

अधिक जाननें के लिए निचे Learn More पर टैप करें

अधिक जाननें के लिए निचे Learn More पर टैप करें