Artificial intelligence क्या है? AI कितने प्रकार के होते हैं

Artificial intelligence क्या है? AI कितने प्रकार के होते हैं

टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में इंसानों ने इतना विकास कर लिया है कि वह अब अपना काम किसी मशीन या रोबोट से करा सकते हैं। कंप्यूटर और मशीन इंसानों की जरूरत बन चुके हैं बड़े और छोटे दोनों ही क्षेत्रों में कार्यालय से लेकर चिकित्सालय तक और शिक्षा से लेकर यातायात तक टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है

हमारी स्मार्ट टेक्नोलॉजी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बदौलत ही संभव है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कंप्यूटर, स्मार्टफोन से लेकर स्मार्ट वॉच और सभी स्मार्ट डिवाइस पर मौजूद है। आज हम इसी विषय में चर्चा करेंगे कि Artificial intelligence क्या है और कितने प्रकार के होते हैं

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है

Artificial intelligence एक कंप्यूटरी दिमाग है जो मनुष्य की तरह सोच सकता है और खुद से सीख सकता है साथ ही यह अपने आप को अपग्रेड कर सकता है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को इंसानों ने बनाया है लेकिन इंसानी दिमाग के मुकाबले आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कई गुना ज्यादा तेजी से निर्णय ले सकता है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को AI भी कहा जाता है। दुनिया में सबसे पहले 1955 में John McCarthy ने AI का निर्माण किया था इसलिए John McCarthy को Father of आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कहा जाता है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस काम कैसे करता है

इसे मशीन लर्निंग के जरिए बनाया जाता है जिसमें बहुत सारे प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेस का प्रयोग किया जाता है खासकर पाइथन प्रोग्रामिंग लैंग्वेज। AI इंसानी दिमाग की तरह चीजों को देखता और परखता है इसके बाद निर्णय लेता है। इसे हर काम के हिसाब से अलग-अलग प्रकार का बनाया जाता है।

जैसे कि कुछ Artificial intelligence को तस्वीर देखकर समझने के लिए बनाया जाता है ये हमारे स्मार्टफोन में मौजूद होता है जो फेस अनलॉक सिक्योरिटी में काम करता है। कुछ AI को वातावरण समझने के लिए बनाया जाता है। इस AI का उपयोग air-conditioners में होता है साथ ही बड़े-बड़े साइंटिस्ट इसका उपयोग एटमॉस्फियर और वातावरण में बदलाव को देखने के लिए इसका उपयोग करते हैं।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में सोचने के लिए प्रोसेसिंग यूनिट लगा होता है काम करने के लिए रैम लगा होता है साथ ही इसमें बहुत सारे आईसी चिप्स होते हैं। इन सभी हार्डवेयर की सहायता से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस काम करता है। AI क्या है और काम कैसे करता है ये जान लेने के बाद अब आप इसके प्रकार के बारे में जान लें।

AI के प्रकार

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं पहला Weak AI, दूसरा Strong AI और तीसरा Super AI है.

Weak AI

इसमें सोचने, समझने की क्षमता कुछ सिमित कार्यो तक ही होती है। इसलिए ये अपने आप को डिवेलप या अपग्रेड भी नहीं कर सकते । क्योकि इसे जिन कार्य के लिए बनाया जाता है ये सिर्फ उन्ही कार्यो को कर सकता है। इसलिए Weak AI एक बार में सिर्फ एक ही कार्य कर सकता है।

Weak AI को ही narrow AI भी कहा जाता है। आज के समय पूरी दुनिया में सिर्फ Weak AI का प्रयोग होता है। यानी यह एकमात्र AI का प्रकार है जिसको अब तक इंसानो ने सफलतापूर्वक विकसित और महसूस किया है। पिछले दशक ही इसमें सबसे अधिक विकास हुआ है।

Narrow AI के उदाहरण

  • facial recognition
  • speech recognition
  • Google Search
  • Virtual assistants (Google assistant, Siri by Apple, Alexa by Amazon).
  • Self-driving cars.
  • Google maps.
  • स्मार्टवॉच
  • कंप्यूटर में शतरंज का खेल।
  • ट्रैफिक लाइट के सेंसर।
  • ऐमेज़ॉन वेबसाइट में रिकमेंडेशन आइटम्स।
  • स्मार्टफोन के स्मार्ट सेंसर।
  • इंडस्ट्रीज और फैक्टरी के रोबोट्स।

Strong AI

अब तक Strong AI की केवल कल्पना ही की गई है। फिलहाल यह दुनिया के किसी भी कंप्यूटर सिस्टम में मौजूद नहीं है। वैज्ञानिको की मानें तो Strong AI मनुष्य की तरह सोचने, समझने, सिखने तथा एक साथ विभिन्न प्रकार के कार्यो को करने में सक्षम होगा। Strong AI खुद अपने आप को अपग्रेड और डेवलप भी कर सकेगा। Strong AI को ही आर्टिफिशियल जनरल इंटेलिजेंस भी कहा जाता है।

Super AI

Artificial super intelligence की भी अब तक केवल कल्पना की गई है। डेवलपर्स और प्रोग्रामर्स का यह मानना है कि Super AI की सोचने, समझने तथा सिखने की क्षमता मनुष्य के दिमाग के मुकाबले कई गुना अधिक होगी और यह इंसानो से ज्यादा ताकतवर होगा। इसमें खुद से फैसले लेने की भी काबिलियत होगी। इसलिए यह मनुष्य के लिए खतरा भी बन सकता है।

Artificial intelligence का उपयोग कहां किया जाता है

घरों में लगाया जाने वाला इमरजेंसी लाइट बिजली ना होने पर खुद से चालू हो जाता है और मोबाइल का ज्यादा गर्म होने पर खुद से स्विच ऑफ हो जाना यह सब कुछ AI के उदाहरण है। आज के समय में आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का प्रयोग लगभग सभी प्रकार के क्षेत्रों में विभिन्न तरीको से किया जाता है।

जैसे AI का प्रयोग हम स्मार्टफोन और कंप्यूटर में भी करते हैं और बड़े इंडस्ट्री में इसका प्रयोग रोबोट से काम कराने में किया जाता है। AI क्या होता है ये समझ लेने के बाद अब आप ये जान लें की AI कैसे बनाया जाता है।

AI कैसे बनाया जाता है

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस डेवलपर्स और प्रोग्रामर्स के द्वारा बनाया जाता है इसे बहुत सारे कोडिंग और एल्गोरिदम से बनाते हैं साथ ही बहुत सारे प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का उपयोग किया जाता है खासकर पाइथन प्रोग्रामिंग लैंग्वेज।

AI में मशीन लर्निंग की भी अहम भूमिका होती है। बहुत सारे लोग मिलकर एक AI सिस्टम को डिवेलप करते हैं। एक अच्छा सिस्टम बनाने के लिए प्रोग्रामर्स और डेवलपर्स को बहुत समय लगता है।

AI कैसे सीखें

आप इंस्टिट्यूट या कॉलेज में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करके AI बनाना सीख सकते हैं। इसके अलावा आप घर पर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख कर भी AI बना सकते हैं। Basic AI बनाने या सीखने के लिए आप हार्डवेयर कंपोनेंट Adreno का उपयोग कर सकते हैं। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सीखने के लिए आपके पास कंप्यूटर या लैपटॉप होना बहुत जरूरी है।

क्या AI इंसानों के लिए खतरा है

Weak AI इंसानों के लिए बिल्कुल भी खतरनाक नहीं है क्योंकि हम इसे पूरी तरह से कंट्रोल कर सकते हैं लेकिन वहीं दूसरी तरफ Strong AI और Super AI इंसानों के दिमाग से कई गुना ज्यादा सोच सकता है और हो सकता है कि भविष्य में यह हमारे लिए खतरनाक साबित हो।

लेकिन किसी भी मशीन या रोबोट को बनाते वक्त उसमें मनुष्य को चोट ना पहुंचाने वाला प्रोग्राम डाला जाता है। तो ऐसे में strong AI और Super AI मनुष्य के लिए सबसे अधिक फायदेमंद  साबित होगा।

AI से जुड़ी फिल्में

इन फिल्मों को देख कर आप AI के वर्तमान और भविष्य की कल्पना को समझ सकते है। और Artificial intelligence क्या होता है अच्छी तरह से जान पाएंगे।

  1. Terminator.
  2. Robot.
  3. Oblivion.
  4. I robot.
  5. Avengers age of Ultron.
  6. Robot 2.0
  7. Automata.
  8. Super intelligence.

ये भी पढ़े : इंटनेट में सवाल जवाब खोजना पसंद है तो आप क्वोरा के बारे में जानते ही होंगे यदि नहीं जानते तो हमारे लेख Quora क्या है, इसका प्रयोग कैसे करें जरूर पढ़े।

More Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Fill out this field
Fill out this field
Please enter a valid email address.
You need to agree with the terms to proceed

Menu