CMOS क्या है, CMOS Battery क्या है? BIOS और CMOS में अंतर

CMOS kya hai

कंप्यूटर के अंदर BIOS और CMOS की एक अहम भूमिका होती है, BIOS एक सॉफ्टवेयर है और C.M.O.S. एक हार्डवेयर अंग है, ये दोनों मिलकर कंप्यूटर को स्टार्ट करने में मदद करते हैं। इस लेख के माध्यम से आप जानेंगे कि सीएमओएस (CMOS) क्या होता है? और कंप्यूटर में इसकी आवश्यकता क्यों होती हैं?

CMOS क्या है? (What is CMOS in hindi)

CMOS का पूरा नाम Complementary Metal Oxide Semiconductor हैं, यह कंप्यूटर के मदरबोर्ड में स्थापित एक चिप (chip) है इसे कंप्यूटर चिप भी कहा जाता हैं। C.M.O.S. chip के अंदर कंप्यूटर हार्डवेयर कंपोनेंट की जानकारी और सेटिंग स्टोर रहती है, जब कंप्यूटर को पहली बार चालू (boot) किया जाता है तब cmos के मदद से BIOS Firmware कंप्यूटर के हार्डवेयर अंगों की जांच करता हैं, इस प्रक्रिया के बाद कंप्यूटर चालू हो जाता है।

समय और तारीख की सेटिंग को भी cmos चिप के अंदर स्टोर किया जाता है, जिससे कंप्यूटर किसी भी समय चालू होने पर सही समय और तारीख की जानकारी देने में सक्षम होता है। cmos chip के अंदर ग्राफिक कार्ड, प्रोसेसर, रैम, हार्ड डिस्क जैसे अन्य हार्डवेयर अंगों की जानकारी और सेटिंग मौजूद रहती हैं।

कंप्यूटर टर्न ऑफ हो जाने पर यानी कि कंप्यूटर के बंद हो जाने के बाद भी cmos chip को बिजली प्राप्त होते रहती है, ऐसा इसलिए हो पाता है क्योंकि Complementary Metal Oxide Semi-conductor (CMOS) चिप को हमेशा पावर देने के लिए मदरबोर्ड में एक cmos बैटरी लगाई जाती है जो हमेशा इस चिप को पावर देते रहती है।

CMOS Battery क्या हैं? (What is cmos battery in hindi)

कंप्यूटर हार्डवेयर की सेटिंग को बायोस और CMOS चिप के अंदर स्टोर की जाती है, इसके अलावा समय और तारीख की सेटिंग को भी सीमॉस चिप के अंदर स्टोर किया जाता है, अगर कंप्यूटर के बंद हो जाने के बाद cmos chip में पावर की सप्लाई किसी कारणवश बंद हो जाती है तो इससे कंप्यूटर हार्डवेयर की सारी सेंटिंग डिलीट हो जाएगी, इसलिए C.M.O.S. chip और bios को हमेशा बिजली देने की जरूरत पढ़ती है कंप्यूटर के बंद हो जाने के बाद भी इनमें पावर सप्लाई होते रहती हैं।

cmos chip और bios को हमेशा बिजली देने के लिए कंप्यूटर के मदरबोर्ड में एक छोटा सा बैटरी लगाया जाता है, इस बैटरी को cmos battery कहते हैं। CMOS बैटरी का पूरा नाम Complementary Metal Oxide Semiconductor Battery हैं। यह एक साधारण 3 Volt की coin-cell बैटरी है जिसे कंप्यूटर के मदरबोर्ड में लगाया जाता है ताकि cmos chip और bios को हमेशा बिजली मिलती रहें, इसे cmos cell भी कहा जाता हैं।

CMOS के उपयोग (use of cmos in hindi)

कंप्यूटर तथा अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में CMOS की एक अहम भूमिका होती है, कंप्यूटर में इसके निम्न उपयोग हैं

  • जब कंप्यूटर और लैपटॉप चालू होते हैं, तो ये डिवाइस केवल cmos की मदद से ही शुरू हो पाते हैं। CMOS की मदद से कंप्यूटर तथा लैपटॉप को बूट(boot) कराया जाता हैं।
  • Date और Time की सेटिंग को cmos के अंदर स्टोर किया जाता है, इसलिए जब भी कंप्यूटर चालू होता है तो वह समय और दिन को सही-सही बता पाता हैं।
  • कंप्यूटर से जो भी डिवाइस जुड़े होते हैं, cmos उन सभी डिवाइस की जानकारी अपने पास स्टोर कर लेता हैं।
  • कंप्यूटर के सभी हार्डवेयर कंपोनेंट्स की जानकारी cmos के अंदर स्टोर की जाती है, जरूरत पड़ने पर हार्डवेयर की सेटिंग को cmos के जरिए बदला जा सकता हैं।

CMOS और BIOS में अंतर (Difference Between CMOS and BIOS in hindi)

CMOSBIOS
यह मेमोरी चिप होने के साथ-साथ कंप्यूटर का हार्डवेयर अंग है, जोकि मदरबोर्ड में प्री-इंस्टॉल रहता है।Bios एक सिस्टम सॉफ्टवेयर है, जोकि cmos के अंदर इंस्टॉल रहता हैं।
यह एक Volatile चिप हैं।Bios एक Non-volatile मेमोरी हैं।
CMOS के अंदर Bios की सेटिंग स्टोर रहती हैं।Bios के अंदर कंप्यूटर बूटिंग प्रोसेस का प्रोग्राम स्टोर रहता हैं।
चिप होने के कारण इसे अपग्रेड और अपडेट नहीं किया जा सकता है।।इसे फ्लैशिंग के जरिए अपडेट और अपग्रेड किया जाता हैं।
CMOS का पूरा नाम Complementary Metal Oxide Semi-Conductor हैं।Bios का पूरा नाम Basic input output system हैं।

CMOS बैटरी कहाँ रहती है? और यह कितने समय तक चल सकती है?

CMOS Battery को कंप्यूटर के मदरबोर्ड में लगाया जाता है, दिखने में यह एक सिक्के की तरह दिखता है, इसलिए इसे coin cell कहते हैं। cmos बैटरी की लाइफ 8 से 10 साल तक की होती है, इस बैटरी के खराब हो जाने के बाद इसे आसानी से बदला जा सकता हैं साथी इस बैटरी की कीमत मात्र ₹10 होती हैं।

कंप्यूटर में CMOS की आवश्यकता क्यों होती हैं?

कंप्यूटर बूटिंग प्रक्रिया में बॉयोस की एक अहम भूमिका होती है, बॉयोस के माध्यम से ही कंप्यूटर चालू हो पाता है, बॉयोस के अंदर बूटिंग प्रक्रिया का डाटा मौजूद रहता है जिसकी वजह से बॉयोस कंप्यूटर चालू कर पाता है। बॉयोस का सॉफ्टवेयर और डाटा cmos chip के अंदर स्टोर रहता है इसलिए कंप्यूटर के मदरबोर्ड में CMOS का होना बहुत ही आवश्यक हैं।

F&Q

CMOS का फुल फॉर्म क्या है?

CMOS का Full Form यानि पूरा नाम Complementary Metal Oxide Semiconductor.

CMOS चिप का आविष्कार किसने किया?

CMOS चिप का अविष्कार 1963 में अमेरिकी इलेक्ट्रिकल इंजीनियर फ्रैंक वानलास (Frank Wanlass) ने फेयरचाइल्ड सेमीकंडक्टर में काम करने के दौरान किया था।

Define cmos in hindi

कंप्यूटर के मदरबोर्ड में स्थापित एक चिप(chip) है।

CMOS बैटरी को क्या कहते हैं?

Coin cell.

CMOS बैटरी की लाइफ कितनी होती है?

8 से 10 साल तक।

More Similar Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Fill out this field
Fill out this field
कृपया एक मान्य ईमेल पता दर्ज करें.
You need to agree with the terms to proceed