Broadband क्या है और यह कैसे काम करता है?

Broadband क्या है और यह कैसे काम करता हैं?

भारत में इंटरनेट चलाने के लिए ज्यादातर लोग मोबाइल डेटा का उपयोग करते है। लेकिन और भी कई तरीके हैं जिनसे इंटरनेट चलाया जा सकता है जैसे कि Broadband, WiFi, इत्यादि। इस लेख के माध्यम से आप ये जानेंगे कि Broadband क्या है और यह कैसे काम करता है।

Broadband क्या है

ब्रॉडबैंड कनेक्शन एक इंटरनेट सेवा है इसमें Broadband हार्डवेयर डिवाइस के जरिये हाई स्पीड इंटरनेट प्रदान की जाती है। इसमें एक साथ कई सिग्नल और ट्रैफिक को ट्रांसमिट करने की क्षमता होती है। मोबाइल डाटा के मुकाबले ब्रॉडबैंड की इंटरनेट स्पीड काफी ज्यादा होती है। ब्रॉडबैंड कनेक्शन के अलग-अलग माध्यम (medium) होते हैं जैसे कि कोएक्सियल केबल, ट्विस्ट पेयर केबल और फाइबर ऑप्टिक केबल।

Broadband कैसे काम करता है

टेलीकम्युनिकेशन कंपनी के द्वारा एक ऐसी फ्रीक्वेंसी और ट्रांसमिशन उपलब्ध कराई जाती है जिसकी मदद से उपयोगकर्ता इंटरनेट का उपयोग कर सकें। इन फ्रीक्वेंसी और ट्रांसमिशन को तार (cable) के जरिए ब्रॉडबैंड डिवाइस तक पहुंचाया जाता है ऐसे में ये तार फाइबर ऑप्टिक, कोएक्सियल और ट्विस्टेड पेयर हो सकते हैं।

ब्रॉडबैंड तक तार पहुंचने के बाद तार को ब्रॉडबैंड से जोड़ा जाता है इसके बाद ब्रॉडबैंड तक पहुंचने वाले फ्रीक्वेंसी को हम भिन्न-भिन्न डिवाइस यानी की कंप्यूटर, स्मार्टफोन, टीवी, टैबलेट से कनेक्ट करते हैं और इंटरनेट का आनंद लेते हैं।

ब्रॉडबैंड कनेक्शन के प्रकार

ब्रॉडबैंड कनेक्शन तीन प्रकार के होते हैं Wired, Radio frequency और Satellite.

Wired connection

इस कनेक्शन में सर्विस प्रोवाइडर यानी कि टेलीकम्युनिकेशन कंपनी से तार के जरिए ब्रॉडबैंड तक डाटा ट्रांसफर किया जाता है इसे Wired कनेक्शन कहते हैं। यह कनेक्शन सस्ता होता है।

Radio frequency

वायरलेस ब्रॉडबैंड इस कनेक्शन में टेलीकम्युनिकेशन कंपनी से RF (radio frequency) के द्वारा ब्रॉडबैंड तक डाटा ट्रांसफर किया जाता है इसे वायरलेस कनेक्शन कहते हैं यह कनेक्शन Wired कनेक्शन के मुकाबले थोड़ा ज्यादा महंगा होता है।

Satellite

इस कनेक्शन में सेटेलाइट से रेडियो फ्रीक्वेंसी के जरिए ब्रॉडबैंड तक डाटा ट्रांसफर किया जाता है इसे वायरलेस कनेक्शन कहते हैं यह कनेक्शन बहुत महंगा होता है।

ट्रांसमिशन माध्यम के प्रकार

टेलीकम्युनिकेशन कंपनी से तार के जरिए ब्रॉडबैंड तक डाटा ट्रांसफर करने के लिए तीन तरह के केबल का उपयोग किया जाता है कोएक्सियल केबल, ट्विस्ट फेयर और फाइबर ऑप्टिक।

Coaxial cable

इस केबल के कोर में कॉपर वायर होता है जिसकी मदद से डाटा ट्रांसफर किया जाता है कोएक्सियल केबल दो प्रकार के होते हैं।

  1. Thin coaxial cable (10 base 2).
  2. Thick coaxial cable (10 base 5).

Twist pair cable

इस केबल के अंदर 8 वायर होते हैं जोकि दो-दो के पेयर में होते हैं। इस केबल का सबसे ज्यादा उपयोग Lan नेटवर्क में होता है। इसके भी दो प्रकार होते हैं।

  1. Shield twist pair cable.
  2. Unshielded twisted pair cable.

Fiber optic cable

इस केबल के कोर में ग्लास की ट्यूब होती है जिसकी मदद से लाइट के फॉर्म में डाटा ट्रांसफर होता है। इस केबल में डाटा ट्रांसफर की स्पीड बहुत ज्यादा होती है।

Best internet broadband provider companies

  • Jio fiber.
  • Airtel broadband.
  • BSNL broadband.
  • Gigatel broadband.
  • MTNL broadband.
  • Excitel broadband.
  • Spectra broadband.
  • Act fibernet.

More Similar Posts

1 Comment. Leave new

  • Hiiii ….
    Sir
    Your website is Amazing
    My name is vishal and i am a experience content writer so can you hire me as a content writer

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Fill out this field
Fill out this field
Please enter a valid email address.
You need to agree with the terms to proceed

Menu